News_Special छत्तीसगढ़

रायपुर के जिला कलेक्टर ने दिया इस्तीफा, भाजपा की टिकट पर खरसिया सीट से लड़ेंगे चुनाव !

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बीजेपी चुनाव जीतने के लिए हर एक पैंतरा अपना रही है। इस बार फिर से भाजपा ने एक आईएएस अफसर पर बड़ा दांव खेला है।

कांग्रेस की सीट पर सेंधमारी करने के लिए बीजेपी एक आईएएस अफसर को चुनाव मैदान में उतार सकती है। छत्तीसगढ़ के 2005 बैच के आईएएस ओपी चौधरी ने कलेक्टर के पद से इस्तीफा दे दिया है।

चौधरी ने राजनीति में कदम रख दिया है। जानकारी मिली है कि आईएएस अफसर ओपी चौधरी ने अपनी 12 साल की सर्विस को छोड़ दिया है।

जल्द ही वो दिल्ली में बड़े नेताओं की मौजूदगी में भाजपा का दामन थामेंगे। ओपी चौधरी को बीजेपी रायगढ़़ की खरसिया सीट से चुनाव मैदान में उतार सकती है।

आपको बता दें कि ओपी चौधरी का इस्तीफा केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय ने स्वीकार भी कर लिया है, गौरतलब है कि पिछले 15 दिन से चौधरी के नौकरी छोड़कर राजनीति में उतरने की चर्चा जोरों पर थीं।

अपने कार्यकाल में उन्होंने छत्तीसगढ़ में ऐसी कई योजनाओं पर काम किया, जिससे उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर भी सम्मानित किया गया था।

आपको बता दें कि जिस वक्त वो दंतेवाड़ा में कलेक्टर थे, तो उन्होंने नक्सल प्रभावित इलाके को एजुकेशन हब में बदल दिया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने साल 2011-12 में उन्हें प्रधानमंत्री एक्सीलेंस अवॉर्ड से सम्मानित भी किया था।

ओपी चौधरी 2005 बैच के आइएएस हैं, रायगढ़ जिले के बायंग गांव के रहने वाले हैं, वो अघरिया पटेल समाज से आते हैं। यह गांव खरसिया विधानसभा में आता है।

कांग्रेस के दिवंगत नेता नंद कुमार पटेल भी इसी क्षेत्र से थे। इस समय उनके बेटे उमेश पटेल खरसिया सीट से विधायक हैं, ऐसे में इस सीट पर कब्जा करने के लिए भाजपा ओपी चौधरी का इस्तेमाल करना चाहती है।

बताया जा रहा है कि ओपी अघरिया समाज के युवाओं में काफी लोकप्रिय भी हैं, साथ ही समाज उन्हें यूथ ऑइकान मानता है, ऐसे में पार्टी ओपी पर दांव लगा रही है।

आपको बता दें कि खुद सीएम रमन सिंह ओपी चौधरी को अगली सरकार में महत्वपूर्ण पद देने का व्यक्तिगत वादा कर चुके हैं।

ओपी चौधरी का जन्म 2 जून 1981 को हुआ था। 31 मार्च 2016 से रायपुर जिले के कलेक्टर पद पर तैनात हैं। रायपुर से पहले वे जांजगीर-चांपा जिले के कलक्टर पद पर तैनात थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *