murder
News_Special हरियाणा

तांत्रिक के चक्कर में पांच बच्चों की हत्या, दरिंदे बाप का पंचायत में चौंकाने वाला खुलासा

जींद। हरियाणा के जींद में तंत्र-मंत्र के चक्कर में एक पिता ने अपने ही पांच बच्चों की हत्या कर दी। 15 जुलाई को दो सगी बहनों के लापता होने के बाद जब उनकी तलाश शुरू की गई तो सामने आया कि दोनों बच्चियों की हत्या कर दी गई है और उनका कातिल उनका पिता है। पंचायत में ग्रामीणों ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि इससे पहले भी वह अपनी दो लड़कियों और एक लड़के की तंत्र क्रिया के लिए हत्या कर चुका है। तंत्र-मंत्र में पांच बच्चों की हत्या की बात कबूलने की बाद ग्रामीणों ने आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया है।

मृतक बच्चों के मामा अहसान ने बताया कि उसके जीजा जुम्मा ने पंचायत में अपने पांच बच्चों की हत्या की बात कबूली है। अहसान के मुताबिक, दो भांजियों के गायब होने पर वह 16 जुलाई को गांव डिडवाडा पहुंचा था। कुछ पूछने पर जुम्मा उन्हें और ग्रामीणों को लगातार गुमराह कर रहा था। इसके बाद उस पर शक हुआ। शुक्रवार शाम को फिर से पंचायत में उससे पूछताछ की गई तो उसने बच्चों की हत्या की बात को स्वीकार कर लिया।

सफीदों के एएसपी अजीत सिंह शेखावत ने बताया कि पहले जुम्मा ने ग्रामीणों के सामने बच्चों की हत्या करना कबूला है। जुम्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। जुम्मा से एक-एक कर सभी हत्याओं के बारे में पूछताछ की जा रही है। 15 जुलाई की रात को गांव डिडवाडा निवासी जुम्मा की दो बेटियां 11 वर्षीय मुस्कान और सात वर्षीय निशा संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गईं थीं। तीन दिन बाद दोनों बच्चों के शव नहर में मिले थे। पुलिस को जो पोसटमॉर्टम रिपोर्ट मिली थी उसमें मौत का कारण डूबना बताया गया था। लेकिन, जांच के दौरान इस घटना में किसी करीबी के शामिल होने का शक हुआ था।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में बन रही दुनिया की सबसे लंबी इलेक्ट्रिक टनल, यहां से गुजरेगी डबल डेकर मालगाड़ी

सख्ती पर जुम्मा ने कहा कि उसने ही अपनी दोनों बेटियों को नहर में फेंका था। जुम्मा की बात सुनकर सरपंच व ग्रामीण हैरान रह गए थे। जुम्मा ने बताया कि इससे पहले भी वह अपने दो बेटों और एक बेटी को मार चुका है। करीब डेढ़ साल पहले उसने डेढ़ साल की लड़की की भी हत्या की थी, लेकिन उस समय उन्हें बीमार बता को गुमराह कर दिया था। जुम्मा की पत्नी छठी बार गर्भवती है।
रिपोर्ट: धर्मेन्द्र पटिकरा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *