स्पेशल न्यूज़ हरियाणा

तीन महीने तक ड्रग्स देकर सिक्योरिटी गार्ड ने नाबालिग के साथ बंधक बनाकर की हैवानियत

गुरुग्राम। हरियाणा में एक नाबालिग को बंधक बनाकर तीन महीने तक दरिंदगी की हदें पार करने का मामला सामने आया है। इस घटना के बार में जिसने भी सुना उसका दिल दहल गया।
घटना देश की राजधानी दिल्ली से सटे गुरुग्राम की है। यहां रहने वाले एक सिक्योरिटी गार्ड ने 16 साल एक नाबालिग को तीन महीने तक एक कमरे में बंधक बनाकर दुष्कर्म किया। आरोपी उसे रोजाना ड्रग्स भी देता था
आरोपी पीड़िता को दिन में दो बार ड्रग्स देता था। आरोप है कि आरोपी उसे रोजना पीटता था, ताकि वह कमरे से भाग न पाए। लेकिन आरोपी अपनी एक गलती की वजह से पुलिस के जाल में फंस गया।
पीड़िता और उसका परिवार बंगाल के रहने वाला है। वह काफी समय पहले पालम विहार की हाउसिंग सोसाइटी में रहते थे, यहां रहने के दौरान ही पीड़ित परिवार और आरोपी की पहचान हुई थी।
पीड़ित परिवार जब गुरुग्राम में रहता था को पीड़िता यहां एक घर में नौकरानी का काम करती थी, आरोपी उसी घर में आरोपी सिक्योरिटी गार्ड था।
पीड़ित परिवार गुरुग्राम में कई साल रहने के बाद वापस बंगाल चला गया था। आरोपी मोहम्मद आलम मंजर 13 मई को बंगाल पहुंचा और पीड़िता को गुरुग्राम में नौकरी दिलाने के बहाने से ले आया।
पीड़िता के मुताबिक, वो दोनों ट्रेन से दिल्ली आ गए। जब वह दोनों गुरुग्राम पहुंचे तो आरोपी ने उसका फोन छीन लिया था। इसके बाद आरोपी ने उसे नशीला पदार्थ मिली कोल्डड्रिंक पिला दी।
इसके बाद ड्रग्स भी दिया। आरोपी मंजर ने न्यू पालम विहार में एक कमरा किराए पर ले रखा था। यहीं पर आरोपी ने नाबालिग को बंधक बना कर रखा। तीन महीने में कई बार उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।
आरोप है कि आरोपी रोजाना उसे ड्रग्स देता था, मंजर बिहार के किशनगंज का रहने वाला है। आरोपी मंजर अपने काम के बाद रोज उस कमरे पर जाता था, जहां नाबालिग को बंधक बनाकर रखा था।
आरोपी उसे खाने में ड्रग्स देता था, उसके साथ दुष्कर्म करता था। इसके बाद वह उसे दोबारा ड्रग्स देकर कमरे में बंद कर अपने घर चला जाता था।
लेकिन 22 अगस्त को आरोपी कमरे का दरवाजा बंद करना भूल गया। इसका फायदा उठाकर पीड़िता वहां से फरार होने में कामयाब हो गई। सबसे पहले पीड़िता ने अपने परिजनों से फोन पर बात की।
संयोग ऐसा था कि परिजन भी पीड़िता की तलाश में गुरुग्राम आए थे, पीड़िता ने उनसे मिलकर पूरी कहानी बताई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई।
फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी अपनी पत्नी से भी झूठ बोलता था कि वह एक्सट्रा काम काम करता है, इसलिए वह घर देरी से आता है। पुलिस ने पीड़िता को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.