Bhaiyyu Maharaj Suicide Case
इंडिया न्यूज़ मध्य प्रदेश

खुलासा: भय्यू महाराज को पलक ने दी थी धमकी, शादी करो, नहीं तो जेल की हवा खाओगे

भोपाल। इंदौर (Indore) कोर्ट ने शुक्रवार को भय्यू महाराज सुसाइड केस (Bhaiyyu Maharaj Suicide Case) में फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने दोषी विनायक, शरद और पलक को छह-छह साल की सजा सुनाई गई है। इन तीनों ने भय्यू महाराज को सुसाइड के लिए मजबूर किया था।

अदालत के फैसले से चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। कई साल से भय्यू महाराज की राजदार रही शिष्या पलक उनसे शादी करना चाहती थी, इस काम में उसके साथ सेवादार शरद और विनायक भी थे।

भय्यू महाराज को उनकी शिष्या पलक ने धमकी थी कि 16 जून 2018 को शादी करना ही पड़ेगी। इसी बीच दाती महाराज पर अपनी शिष्या से दुष्कर्म का नया मामला सामने आया, जिसके बाद शिष्या पलक को भय्यू महाराज पर दबाव बनाने का और अच्छा मौका मिल गया।

फैसले में बताया गया है कि शिष्या पलक ने शादी की दी हुई तारीख से 5 दिन पहले यानि 11 जून 2018 को महाराज को फोन किया और धमकी दी कि शादी करो, वरना दाती महाराज जैसे भागते फिरोगे। इससे वे बदनामी के डर से घबरा गए और दूसरे दिन ही दिन 12 जून को भय्यू महाराज ने इंदौर के घर में खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली।

खुलासा हुआ है कि पलक ने महाराज को मीडिया में बदनाम करने की धमकी दी थी। इसके अलावा पलक महाराज से डेढ़ लाख रुपए महीना लेती थी, इसे बढ़ाकर 2.50 लाख करने की मांग की थी। सेवादार और राजदार तीनों मिलकर महाराज को नींद की दवा खिलाते थे। बताया जाता है कि भय्यू महाराज ने अपनी बड़ी बहन को खुद आपबीती बताई थी और कहा था- मैं फंस गया हूं।

फैसले में खुलासा हुआ है कि 13 मई को राजदार पलक का जन्मदिन था। पलक ने सेवादार शरद के जरिए 11 मई को महाराज को गुजरात आने का संदेश भेजा था। पलक ने महाराज पर दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी को घर से निकालने का भी दबाव बनाया था।

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में 31 जनवरी के बाद खुल सकते हैं स्कूल, सीएम शिवराज बोले-पहले हम करेंगे…

डॉ. आयुषी ने कोर्ट में दिए बयान में कहा कि महाराज जब गुजरात से लौटे थे तो 11 जून 2018 को शिष्या पलक ने सेवादार विनायक के फोन के जरिए बातचीत की थी। उसने महाराज से कहा था कि 16 जून याद है ना, नहीं तो दाती महाराज के जैसे फरार होना पड़ेगा। पलक ने कहा था कि अगर 16 जून को शादी नहीं की, तो जेल की हवा खिलाना मुझे बहुत अच्छे से आता है।

यह भी पढ़ें: शर्मनाक: मंह बोले भाई ने नाबालिग की मांग में जबरन भरा सिंदूर, फिर दोस्तों के साथ किया गैंगरेप

यह सब बातें भय्यू महाराज ने अपनी पत्नी डॉ. आयुषी को बताई तो उन्होंने उन्हें पुलिस के पास जाने के लिए कहा, इस पर महाराज ने कहा था- मैं पब्लिक फिगर हूं, लोगों की आस्था मुझसे जुड़ी हुई है, मेरे काफी शिष्य हैं, इसलिए पुलिस के पास नहीं जा सकते।

उन्होंने कहा था कि शिष्य दुष्कर्म के मामले में फंसाने की धमकी दे रही है। मैं अब परेशान आ गया हूं। यह लड़की मुझे जेल भिजवाकर रहेगी, मैं अब थक चुका हूं। मैं जेल नहीं जाना चाहता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.