इंडिया न्यूज़ उत्तर प्रदेश

रास्ते में गाड़ी पलटी और फिर विकास दुबे का खेल खत्म जाने पूरी कहानी

कानपुर। यूपी पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में कुख्यात बदमाश विकास दुबे को मार गिराया हैं, लेकिन पुलिस के एनकाउंटर की थ्योरी लोगों को समझ नहीं आ रही है. पिछले छह दिनों से विकास दुबे एक राज्य से दूसरों राज्यों में दुबता फिर रहा था.फिर अचानक मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर में तैनात गार्ड पुलिस को सूचना मिलती है, जिसके बाद एमपी पुलिस विकास दुबे को धर- दबोच लेती है. पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद विकास दुबे सरेआम चिल्ला उठता है कि -‘मैं कानपुर वाला विकास दुबे हूं’.

इतने में पुलिस विकास दुबे के मुंह पर दो- चार थप्पड़ जड़ देती है. विकास की गिरफ्तारी के बाद सबको लग रहा था कि- अब न्याययिक प्रक्रिया के तहत विकास पर शिकंजा कसा जाएगा.वहीं, उत्तर प्रेदश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सवाल खड़े कर दिए कि- विकास दुबे की गिरफ्तारी है या सरेंडर. विकास दुबे को लेकर राजनीतिक संरक्षण को लेकर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे थे.

ये भी पढें हत्यारे विकास दुबे का चौंकाने वाला खुलासा, बताया क्यों जलाना चाहता था पुलिसकर्मियों के शव

इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी ने भी कहा कि- विकास दुबे के फोन के सीडीआर की जांच होनी चाहिए. विकास दुबे का राजनीतिक रसूक भी था. उसकी पत्नी रिचा जिला पंचायत सदस्य भी हैं. विकास दुबे की गिरफ्तार मध्यप्रदेश में होने के बाद यूपी से लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान बोले कि- महाकाल मंदिर में जाने से पाप नहीं धुल नहीं सकते है.

ये भी पढ़ेंविकास बोला- मैं कानपुर वाला विकास दुबे हूं, इतने में पुलिस ने जड़े थप्पड़ देखें वीडियो

एसपी कानपुर वेस्ट ने मीडिया से बातचीत मे कहा कि’ हम कंटीशन अस्पताल में पता कर रहे है. जब अभियुक्त को मध्यप्रदेश से लाया जा रहा था. उसी वक्त रास्तें में गाड़ी का एक्सीडेंट हुआ और फिर गाड़ी पलट गई. आरोपी ने पुलिस का पिस्टल लेकर भागने की कोशिश की. उसके बाद पुलिस की टीम ने उसे चारों तरफ से घेरकर आत्मसम्पर्ण करने की कोशिश की, जिसमें विकास दुबे ने पुलिस पर फायरिंग की. बाद में पुलिस ने अपनी आत्मसुरक्षा में गोली चलाई, जिसमें विकास दुबे घायल हुआ है. और पुलिसकर्माी भी घायल हुए हैं. विकास  दुब को अस्पताल लें जान के बाद डॉक्टरों की टीम ने  उसे मृत घोषित कर दिया हैं.

रिपोर्ट- तंजीम राना

Leave a Reply

Your email address will not be published.