इंडिया न्यूज़ दिल्ली

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन प्लाज्मा थेरेपी के बाद हालत में सुधार, कल जनरल वार्ड में शिफ्ट होंगे!

नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री संत्येंद्र जैन का प्लाज्मा थेरेपी के बाद हालात में तेजी से सुधार हो रहा है. उनका बुखार कम हो रहा और ऑक्सीजन का लेवल भी बढ़ गया है. वहीं दूसरी ओर डॉक्टरों का कहना है कि- उनकी हालात में सुधार को देखते हुए, कल जनरल वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा. आपकों बता दें कि, स्वास्थ्य मंत्री की तेज बुखार होने के चलते कोविड-19 की जांच की गई थी. वह कोरोना की जांच में पॉजिटिव पाए गए थे,जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए दिल्ली स्थित साकेत राजीव गांधी मल्टी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. जहां पर इलाज के दौरान अचानक उनकी तबियत ज्यादा खराब हो गई थी. प्लाज्मा थेरेपी के बाद उनकी तबियत में काफी हद तक सुधार हो गया.

 

दरअसल ,दो दिन पहले ही दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि- हम डॉक्टरों के साथ लगातार संपर्क कर रहे हैं. उनके शरीर में लंघ संक्रमण ज्यादा फैलने की वजह से साकेत स्थित मैक्स सुपर स्पेस्लिटी अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया है. सतेंद्र जैन को सांस लेने में दिक्कत हो रही है और सीटी स्कैन के दौरान लंघ संक्रमण फैलने का पता चला है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि हाल ही में किए गए सीटी स्कैन में लंघ में संक्रमण फैल गया . सुबह से ही वह काफी थकान महसूस कर रहे थे. हम चिकित्सों के लगातार संपर्क में बने हुए हैं. सीएम  अरविंद  केजरीवाल ने बताया कि – हम उनकी नाजुक हालात पर नज़र बनाए हुए हैं.

क्या होती प्लाजमा थेरेपी?
भारत में कोरोना की चैन लंबी होती जा रही है. इसी के साथ ही संक्रमित और मरने वाला का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है. ऐसे में प्लाज्मा थेरेपी करने के बाद कोरोना के मरीज ठीक होने के मामले सामने आ रहे है. कोरोना से पीड़ित मरीज के ठीक होकर घर लौट जाने के दो हफ्ते बाद उस व्यक्ति के खून से एंडीडोट बनाई जाती है. जिसे प्लाजमा थेरेपी के नाम से जानते है।

रिपोर्ट: तंजीम राना

Leave a Reply

Your email address will not be published.