train
INDIA NEWS मध्य प्रदेश

खबर स्टेट की खबर का बड़ा असर, रेलवे ने वापस लिया फैसला, ट्रेनों में नहीं मिलेगी ये सुविधा

नई दिल्ली। खबर स्टेट की खबर का बड़ा असर हुआ है। पश्चिम रेलवे ने उस प्रस्ताव को वापस लिया है, जिसमें 39 ट्रेनों में मसाज करने का प्रस्ताव तैयार किया गया था। प्रस्ताव के मुताबिक जून के अंत में 39 ट्रेनों में मसाज की सुविधा शुरू होनी थी। इसके लिए रतलाम रेल मंडल प्रशासन ने एक प्रस्ताव दिया था। लेकिन इस प्रस्ताव का भाजपा सांसद समेत कई बड़े नेताओं ने विरोध किया था। पश्चिम रेलवे ने प्रस्ताव को लेकर आधिकारिक सूचना जारी की है। इसमें बताया गया है कि यह प्रस्ताव रतलाम डिविजन की तरफ से आया था, उच्च अधिकारियों के सामने जैसे ही यह प्रस्ताव आया। उन्होंने इस पर विचार किया और फिर इसे खारिज कर दिया। रेलवे के सूत्रों के मुताबिक, इस प्रस्ताव पर सोशल मीडिया पर काफी विवाद हुआ। लोगों के अजीबो-गरीब प्रस्ताव आए।

कई लोगों ने यहां तक कह दिया कि ट्रेन में सफर करने के लिए तो जगह नहीं है, ऐसे में मसाज कहां से होगी। आपको बता दें कि हाल ही में इंदौर के भाजपा सांसद शंकर लालवानी ने रेलवे के इस प्रस्ताव को भारतीय संस्कृति के खिलाफ बताया था। सांसद ने इस पर सवाल उठाते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल को खत लिखा था। उन्होंने लिखा था कि ये हमारी भारतीय सभ्यता के खिलाफ है, महिलाओं के सामने ऐसी सुविधा रेलवे की ओर से शुरू करना गलत है। इस पत्र के साथ सांसद ने रेल मंत्री को सुझाव दिया कि मसाज की जगह ट्रेनों में स्वास्थ्य संबंधी सुविधा दी जाए, जो यात्रियों के लिए जरुरी है।

वहीं, भाजपा की पूर्व सांसद सुमित्रा महाजन ने ट्रेनों में मसाज देने के रेलवे के फैसले पर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखा था, और कहा था कि महिला यात्रियों के सामने ऐसे स्कीम भारतीय संस्कृति के खिलाफ है। गौरतलब है कि जून के लास्ट में 39 ट्रेनों में मसाज की सुविधा शुरू होगी। इसके लिए रतलाम रेल मंडल प्रशासन ने एक प्रस्ताव दिया था। देहरादून-इंदौर एक्सप्रेस (14317), नई दिल्ली-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस (12416) और इंदौर-अमृतसर एक्सप्रेस (19325) समेत प्रमुख ट्रेनों में ये सुविधा दी जानी थी। रेलवे ने इस सुविधा को तीन हिस्सों में बांटा था- गोल्ड, डायमंड और प्लेटिनम।

रतलाम के मंडल रेल प्रबंधक आरएन सुनकर के मुताबिक, सुबह छह से रात 10 बजे के बीच चलती ट्रेनों में प्रस्तावित सेवा के तहत यात्रियों के पूरे शरीर नहीं, बल्कि सिर और पैर की मसाज की जाएगी। जो यात्री इस सुविधा का लाभ लेगा, उसे इसके बदले पैसे चुकाने होंगे। गोल्ड कैटेगिरी के 100 रुपये, जबकि डायमंड कैटेगिरी के 200 रुपये और प्लेटिनम कैटेगिरी के 300 रुपये चुकाने होंगे।
रिपोर्ट: अमित सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *