INDIA NEWS

जम्मू-कश्मीर: चर्च के नाम पर चल रहे अवैध हॉस्टल का पर्दाफाश, छुड़ाई गई नाबालिग बच्चियां

जम्मू-कश्मीर से बड़ी खबर आई है। कठुआ में अवैध हॉस्टल में नाबालिग बच्चियों से यौन शोषण का सनसनीखेज मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है।

कठुआ के बीचों बीच पारलीवंड इलाके में चर्च के नाम पर बने हॉस्टल से नाबालिग लड़कियां छुड़ाई गई हैं। पुलिस टीम ने नए बस अड्डे के पास एक बिल्डिंग पर छापा मारा, यहां नाबालिग लड़कियों को देखकर पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई।

पुलिस ने वहां से एक पादरी को हिरासत में लिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस ने वहां से छुड़ाई गई बच्चियों के परिजनों से संपर्क साधना शुरू कर दिया है।

एक हिंदी वेबसाइट के अनुसार, यहां कुछ कमरों में हास्टल चल रहा था, एक हॉल भी है। पादरी इसे चर्च बता रहा है। जानकारी मिली है कि इस हॉल में प्रार्थना भी होती थी। बाकी ईसाई धर्म के लोग यहां आते थे। हॉस्टल पिछले चार साल से चल रहा था।
पुलिस को पूछताछ करने पर पता चला है कि बच्चे पारलीवंड के सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं। हास्टल में रहते थे, उनका खाना, पीना, रहना सब फ्री थी।
छापे के बाद 7 से 16 साल की आठ बच्चियों और 12 लड़कों को बाल आश्रम और नारी निकेतन भेजा गया है।
छुड़ाए गए बच्चों ने पादरी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप है कि पादरी उनका यौन शोषण करता है।
सभी बच्चे गरीब परिवारों के हैं, पंजाब, हिमाचल और जम्मू कश्मीर के कई इलाकों से कठुआ की इस इमारत में रह रहे थे। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *