इंडिया न्यूज़ दिल्ली

राहुल केजरीवाल को लिखेंगे पत्र, डॉकटर की मौत पर… नहीं दिए 1 करोड़ रू

नई दिल्ली। कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 4 नर्सों से बातचीत की है, जिसमें से 2 पुरूष और 2 महिला शामिल हैं. चारों भारतीय हैं, लेकिन इनमें से ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और ब्रिटेन में कार्यकर्त हैं. इतना ही नहीं राहुल ने मेडिकल से जुड़े लोगों का बातचीत का वीडियों अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर किया है. चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने नर्सेज से कोरोना आपदा और इससे निपटने के तरीकों पर भी बात की. बता दें कि, बातचीत का वीडियों शेयर करने के लिए आज का दिन इसलिए चुना, क्योंकि नेशनल डॉक्टर्स डे है.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लाइव बाचतीत के दौरान उनकों ढेर सारी बधाईयां दीं. आप वहां पर हमारे देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. हम समझते हैं कि- सभी कोरोना काल में ये खतरनाक काम रहे है. एक केरल के मेल नर्स ने बताया कि बदकिसमति से मुझे कोरोना हो गया था, लेकिन अब मैं ठीक हूं. राजस्थान के रहने वाले नरेंद्र ने बताया कि- वह पिछले 15 साल से मेडिकल क्षेत्र में काम कर रहे है. जब कोरोना की शुरूआत हुई थी, तब हमनें वास्तव में गंभीरता से लिया था.

राहुल गांधी ने बताया कि मुझे जानकारी मिली है दिल्ली में टेस्टिंग के लिए अनुमति नहीं मिल रही है. हम चुनौती को स्वीकार करना चाहिए. और वास्तविक हालात बताने चाहिए. राहुल गांधी ने पूछा कि- आप इंडियन डॉक्टरों को क्या सलाह देने चाहेंगे. नर्सों के पैनल ने बताया है कि – दिन में बार- बार हाथों को धोना और अन्य उपयों पर चर्चा करनी चाहिए.

केरल के नर्स ने राहुल गांधी को बताया कि- दिल्ली में सेवानिवृत डॉक्टर की कोरोना से मौत हो गई है, लेकिन दिल्ली सरकार की ओर अभी तक 1 करोड़ मुआवजा नहीं दिया गया है. हम आपसे उम्मीद करते है कि आप विपक्ष के नेता होने के नाते ये मामला उठाएगें. राहुल गांधी ने आश्वासन देते हुए कहा कि- मैं दिल्ली सरकार को पत्र लिखूंगा.

रिपोर्ट- तंजीम राना

Leave a Reply

Your email address will not be published.