BJP MLA Son Wife Neetu Singh
मध्य प्रदेश स्पेशल न्यूज़

भाजपा विधायक की पुत्रवधु का दर्द: पति जबरन बनाता था शारीरिक संबंध, ऑडियो सुनकर कांप जाएगी रूह

भोपाल। मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर से भाजपा विधायक (BJP MLA Jalam Singh) जालम सिंह की बहू के ऑडियो ने सियासी पारा हाई कर दिया है। भाजपा विधायक के बेटे की पत्नी नीतू सिंह का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ऑडियो में एक महिला ने भाजपा विधायक के बेटे पर शारीरिक और मानसिक हिंसा के गंभीर आरोप लगाए हैं। मीडिया में यह चर्चा है कि यह ऑडियो भाजपा विधायक की पुत्रवधु का है, हालांकि खबर स्टेट इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता।

वायरल ऑडियो के अनुसार, महिला ने अपना नाम नीतू सिंह और खुद को चंद्रभान सिंह की बेटी बता रही है। ऑ डियो के अनुसार नीतू सिंह की शादी 2016 में भाजपा विधायक जालम सिंह पटेल के बेटे मणिनागेंद्र सिंह पटेल उर्फ मोनू पटेल के साथ हुई थी।

मैं नीतू सिंह, चंद्रभान सिंह की बेटी। मेरी मैरिज 2016 में मणिनागेंद्र उर्फ मोनू पटेल के साथ हुई। हमारी मैरिज अरेंज थी। सगाई के कुछ महीने बाद ही मोनू में बहुत से बदलाव देखे गए। कहीं भी आने जाने में रोक-टोक करने लगे, फोन डिटेल्स लेने लगे, फोन नंबर भी चेंज कर दिए गए थे। शादी के चार महीने पहले मोनू पटेल की गर्लफ्रेंड ने मुझे मैसेज किया और बहुत बदतमीजी से बात की। कुछ पुरानी चैट मेरे साथ शेयर की।

कुछ दिनों में कुछ और लड़कियों ने कॉन्टेक्ट करना शुरू किया, तो मेरा फेसबुक अकांउट बंद करवा दिया गया। मोनू की गर्लफ्रेंड सुमायला ने मेरे से दोबारा कॉन्टेक्ट किया और फिर से बदतमीजी से बातें की, उन्होंने बोला कि शादी के पहले भी और शादी के बाद में मेरे और मोनू का अफेयर चल रहा है।

काफी बातें उन्होंने मुझे बताई जो मेरे और मेरे पति से जुड़ी थी। यह सभी बातें जो मेरे और मोनू के बीच थी, वो सभी उस लड़की को पता थी। जब मैंने ये सारी बातें अपने पति मोनू को बताई तो यह जानने के बाद उन्होंने मेरे साथ मारपीट की, मेरा मोबाइल तोड़ दिया। मेरे को पांच घंटे तक लगातार मारपीट की, मुझे इतना पीटा कि मेरे शरीर में हर जगह जख्म हो गए, शरीर से खून बह रहा था।

मारपीट के साथ ही फायरिंग भी की, मुझे इतना पीटा गया कि मुझे ऐसा लग रहा था जैसे कि मैं मर जाऊंगी। मेरी सास ने यह सारी चीजें देखी लेकिन बात दबाने के लिए कहा। फिर कुछ महीने बाद फिर कुछ पता चलता, फिर मारपीट करते। छोटी-छोटी बातों पर हाथ उठता।

एक महीने बाद मैं अपने मायके पहुंची। अमृत दुबे ने कॉन्टेक्ट किया और बताया कि मेरा मोनू के साथ अफेयर चल रहा है। मोनू को कॉन्फ्रेंस में लेकर पूछा तो उन्होंने सारी सच्चाई उगल दी। मैंने काफी यातनाएं झेली और उसके बाद अपने मायके चली गई। इसके बाद उसने नौकरी की तैयारी की। तीन साल बाद गुड़गांव में नौकरी के लिए चली गई। फिर पहली दिवाली पड़ी को पति के घरवालों को बुलाया। वहां से सिर्फ ससुर आए, मैंने उनसे तलाक के लिए कहा। इस पर भाजपा विधायक ने धमकी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.