dacoit babuli
INDIA NEWS मध्य प्रदेश

12वें दिन में फिर उजड़ गई गुड़िया की मांग, डाकू बबली कोल की मौत के बाद रीवा में रचाई थी शादी

सतना। डाकू बबली कोल की पत्नी गुड़िया देवी से शायद भगवान भी रूठे हैं। शुरू से ही दर्द और यातना की जिंदगी जी रही गुड़िया देवी खुशियों की तलाश में न जाने कहां-कहां भटकी, लेकिन उसे ठिकाना नहीं मिला। डाकू गौरी यादव, हरिश्चंद्र पटेल के बाद डाकू बबली कोल के संपर्क में आई। डाकू बबली कोल भी मारा गया। उसके बाद गुडिया देवी पर पहाड़ टूट पड़ा और मजदूरी करने के लिए निकल पड़ी।

ऐसे में रीवा शहर के उपरहटी निवासी अनिल सिंह बरगाही ने गुड़िया का हाथ थाम लिया और सेमरिया स्थित शिव मंदिर में गुड़िया देवी संग 18 नवंबर के दिन शादी रचा ली। शादी के बाद सबकुछ ठीक-ठाक चल रहा था। शुक्रवार को 12वें दिन उसकी सजी मांग फिर उजड़ गई। बताया जाता है कि अनिल सिंह अपनी पत्नी गुडिया देवी और भांजे के साथ छग चिरमिरी वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। दोपहर में अटैक आने पर अनिल की मौत हो गई। मौत की खबर लगते ही उपरहटी मोहल्ले में मातम सा छा गया।

आपको बता दें कि डाकू बबुली कोल पुलिस मुठभेड़ मारा गया था। उसके बाद गुड़िया ने मप्र रीवा शहर के उपहटी मोहल्ला निवासी अनिल सिंह के साथ धूमधाम के साथ शादी रचाई थी। उधर गुडिया देवी पर फिर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा। बताया जाता है कि अनिल सिंह का शव शनिवार की सुबह रीवा पहुंचेगा।
रिपोर्ट: रूप कुमार हरबोल सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *