balaghat
News_Special मध्य प्रदेश

कर्मचारियों के डाटाबेस में 22 कर्मचारियों का नाम नहीं देने के मामले में कार्रवाई लेखपाल निलंबित

बालाघाट। विधानसभा चुनाव-2018 के लिए कर्मचारियों का डाटा बेस तैयार करने के लिए कर्मचारियों के मांगे गए नामों की सूची तैयार करने में भारी गड़बड़ी किए जाने पर कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी डी व्ही सिंह ने हायर सेकेंडरी स्कूल चांगोटोला के लेखपाल के एस पन्द्रे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

चांगोटोला संकुल के प्राचार्य व्ही पी झारिया को कारण बताओ नोटिस जारी किया है कि क्यों न उनकी तीन वेतन बढ़ोतरी रोक दी जाए।
विधानसभा चुनाव-2018 के लिए जिला निर्वाचन कार्यालय की तरफ से सभी विभागों एवं शासकीय कार्यालयों के कर्मचारियों की जानकारी मांगी गई थी।

उसकी एंट्री साफ्वेयर में की गई है। लेकिन हायर सेकेंडरी स्कूल चांगोटोला के लेखपाल के एस पन्द्रे ने जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराई गई।

चांगोटोला संकुल के कर्मचारियों की सूची में अपने खुद के नाम समेत 21 कर्मचारियों के नाम छोड़ दिए। मतदान दलों के प्रशिक्षण के समय यह बात सामने आई कि चांगोटोला संकुल के बहुत से कर्मचारियों को चुनाव ड्यूटी से छोड़ दिया गया है।

इस पर चांगोटोला स्कूल के प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने कहा गया था।  प्राचार्य व्ही पी झारिया ने अपने स्पष्टीकरण में बताया कि संकुल के कर्मचारियों की सूची तैयार करने की जिम्मेदारी लेखपाल के एस पन्द्रे की थी।

प्राचार्य द्वारा प्रमाण पत्र दिया गया था कि उनके अधीन सभी कर्मचारियों की सूची जिला निर्वाचन कार्यालय को डाटा बेस तैयार करने के लिए उपलब्ध करा दी गई थी। प्राचार्य ने खुद को मोतियांबिद का मरीज होने के कारण हस्ताक्षर करने में भूल होने की बात कही है।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सिंह ने प्राचार्य के स्पष्टीकरण को संतोषजनक नहीं माना है। उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है कि क्यों न इस लापरवाही के लिए उनके खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए।

उनकी तीन वेतन वृद्धि असंचयी प्रभाव से रोक दी जाए। प्राचार्य को सात दिनों के भीतर समक्ष में उपस्थित होकर अपना जवाब प्रस्तुत करने कहा गया है।

इस पूरे प्रकरण में डाटाबेस के लिए कुल 22 कर्मचारियों के नाम को सुनियोजित तरीके से जानबूझकर छोड़ने वाले लापरवाह लेखपाल के एस पन्द्रे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। उसका मुख्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय बालाघाट रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *