Education system
News_Special मध्य प्रदेश

विदिशा में शिक्षा व्यवस्था की पोल खोलती तस्वीरें, कभी यहां तो कभी वहां चलती है पाठशाला

विदिशा। मध्य प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था का क्या हाल है, इन तस्वीरों ने सबकुछ बयां कर दिया है। सूबे में कहीं सरकारी स्कूल नहीं है, कहीं हैं तो उनमें शिक्षक नहीं है। ऐसे में सवाल उठते हैं कि ऐसे कैसे बच्चों का भविष्य बनेगा। तस्वीरें मध्य प्रदेश के विदिशा जिले की हैं। सिरोंज विकासखंड के ग्राम मुरीदपुर में कई सालों से स्कूल भवन ना होने के कारण छात्र कभी इधर तो कभी उधर बैठकर अपने भविष्य के सपने संजो रहे हैं, लेकिन स्थानीय प्रशासन और मध्य प्रदेश सरकार बच्चों के लिए एक भवन उपलब्ध नहीं करा पाए।

बड़ी हैरान करने वाली तस्वीरें है, मध्य प्रदेश सरकार शिक्षा व्यवस्था को लेकर लाखों करोड़ों खर्च कर रही है, वहीं छात्र कभी इधर तो कभी उधर बैठकर अपने भविष्य को बनाने में लगे हैं। अधिकारी भी इस तरफ ध्यान देने के लिए तैयार नहीं हैं। दरअसल मामला मुरीदपुर का है जहां एक प्राथमिक शाला की क्लास लगाई जाती है, लेकिन भवन ना होने के कारण कभी इस मकान में तो कभी उस दहलान में बैठकर बच्चों को पढ़ाया जाता है, लेकिन स्थानीय प्रशासन और मध्य प्रदेश सरकार बच्चों के लिए एक भवन उपलब्ध नहीं करा पाई। सवाल ये है कि ऐसे कैसे बच्चों का भविष्य संवरेगा।
रिपोर्ट: ओम प्रकाश जोशी

पढ़ें: भोपाल में तीन साल के मासूम को जिंदा जलाया, महिला ने हत्या के बाद भी दिखाई हैवानियत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *