Ramkishore Kaver
News_Special मध्य प्रदेश

पूर्व विधायक रामकिशोर कावरे को चुनाव आयोग ने किया योग्य घोषित, राजनीति में हलचल

बालाघाट। परसवाड़ा विधानसभा सीट से भाजपा के पूर्व विधायक रामकिशोर कावरे इसी विधानसभा से एक मात्र सशक्त दावेदार हैं, जिन्हें कुछ दिनों पूर्व निर्वाचन आयोग ने चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित कर दिया था।

जिसके बाद से ही परसवाड़ा की राजनीति में हलचल मची हुई थी रामकिशोर कावरे के अयोग्य घोषित होने के बाद भाजपा के कुछ प्रत्याशी टिकट की जुगत में अपना नाम आने का इंतजार कर रहे थे।

ऐसे में कई दावेदारों के नाम भी सामने आए थे। अयोग्य घोषित होने के बाद पूर्व विधायक रामकिशोर कावरे द्वारा चुनाव आयोग में सुनवाई के लिए फिर से अपील की गई।

वहीं अयोग्य घोषित किए जाने के मामले में न्यायालय की भी शरण ली गई। लोकप्रतिनधित्व अधिनियम 1951 की धारा 10क के अंतर्गत नीलहित व्यक्तियों के संबंध में पूर्व में यह फैसला दिया गया था।

चुनाव आयोग में 1951 की धारा 11क के अंतर्गत सुनवाई में चुनाव आयोग ने रामकिशोर कावरे का पक्ष जानते हुए और चुनाव संबंधी जरुरी दस्तावेजों के फिर अवलोकन के बाद के बाद उन्हें चुनाव लड़ने हेतु योग्य घोषित कर दिया।

जिसके बाद से परसवाड़ा में भाजपा के टिकट को लेकर चल रही चुनावी हलचल और सरगर्मियां लगभग समाप्त हो गई है। जिससे यह स्पष्ट हो गया है कि विधानसभा चुनाव 2018 में परसवाड़ा सीट से भाजपा के प्रत्याशी नानू कावरे ही होंगे।

भाजपा की बनेगी चौथी बार सरकार: नानू कावरे
चुनाव आयोग के फैसले के बाद पूर्व विधायक नानू कावरे द्वारा अपने आवलाझरी स्थित कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बताया गया कि 2013 के चुनाव में वे करीब 2800 मतों से पराजित हुए थे।

चुनाव खर्च के लेखा-जोखा का पूरा हिसाब और इससे संबंधित समस्त कागजात निर्वाचन कार्यालय में अभ्यर्थी के माध्यम से जमा करा दिया गया था। उसके बाद भी चुनाव आयोग द्वारा इस संबंध में नोटिस भिजवाया गया था।

जिसका जवाब निर्वाचन आयोग का समय पर ही दे दिया गया था। लेकिन भारत निर्वाचन आयोग ने कोई जानकारी नहीं दी। कुछ दिन पूर्व ही मुझे पता चला कि मुझे चुनाव लड़ने के लिए आयोग्य घोषित कर दिया गया है।

जिसके बाद चुनाव आयोग और न्यायालय में अपिल की गई, जिस पर भारत निर्वाचन आयोग ने सुनवाई करते हुए योग्य घोषित कर दिया है। इसलिए न्यायालय से अपना केश विड्रा कर लेंगे।

उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग के फैसले के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं में उत्साह का माहौल है, हम इस बार अवश्य चुनाव जीतेंगे और प्रदेश में चौथी बार भाजपा की सरकार बनेगी।

रिपोर्ट: रितेश सोनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *