मध्य प्रदेश

…जब जनसुनवाई में पहुंचा पीजीडीसीए पास बौना, अधिकारी के सामने रखी अपनी मांग

बालाघाट। कलेक्ट्रेट में जनसुनवाई का आयोजन किया गया। इसमें कलेक्टर के निर्देश पर अपर कलेक्टर शिवगोविंद मरकाम ने अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ आवेदकों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभागों के अधिकारियों को आवेदकों के आवेदनों पर तुरंत कार्रवाई के निर्देश दिए गए। जनसुनवाई में कुल 124 आवेदन आए।

इस दौरा कई गांवों के ग्रामीण शिकायत लेकर पहुंचे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों को बैंक से कर्ज दिया गया है। बैंक के कर्ज की राशि वापस करने में उन्हें बहुत परेशानी हो रही है।

प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राही को शतप्रतिशत अनुदान मिल रहा है। उन्हें कोई कर्ज नहीं लेना पड़ रहा है। इस समस्या से निजात पाने के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना को प्रधानमंत्री आवास योजना में समाहित कर दिया जाए।

जनसुनवाई में बुदबुदा का बौने कद का युवा पुष्पेन्द्र बिसेन नौकरी देने की मांग लेकर आया था। उसका कहना था कि वह एमए कर चुका है और पीजीडीसीए भी कर चुका है। उसे कम्‍प्यूटर का भी ज्ञान है।

उसने नौकरी के लिए काफी कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली है। वह गरीब परिवार से है और उसकी आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर है। इसलिए उसे किसी कार्यालय में शासकीय नौकरी दी जाए।

जनसुनवाई में बैहर विकासखंड के ग्राम पटवा का डीलन सिंह शिकायत लेकर आया। उसने कहा कि ग्राम पंचायत पटवा में निर्माण कार्यों के लिए 90 हजार रुपये का मटेरियल सप्लाई किया गया है। लेकिन ग्राम पंचायत की तरफ से उसे अब तक कोई भुगतान नहीं दिया गया है।

वह पहले में भी यह शिकायत कलेक्ट्रेट कार्यालय में पेश कर चुका है। जिस पर बैहर के पंचायत समन्वय अधिकारी परते को जांच का जिम्मा सौंपा गया था। लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। मटेरियल की राशि नहीं मिलने से वह बहुत परेशान है।

इसके अलावा कई अन्य गांवों के लिए जनसुनवाई में पहुंचे और अपनी समस्याएं अधिकारियों के सामने रखी। अधिकारियों ने उन्हें जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.