मध्य प्रदेश राजनीति

भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली से उड़ाया, सुसाइड नोट में चौंकाने वाला खुलासा

आध्यात्मिक गुरु और सामाजिक कार्यकर्ता भय्यूजी महाराज ने कथित तौर पर खुद को गोली से उड़ा लिया। उन्हें घायल हालत में इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई है। उनके कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है।

आपको बता दें कि भय्यूजी महाराज के कमरे से अंग्रेजी में लिखा एक सुसाइड नोट बरामद मिला है। नोट में लिखा है कि जिंदगी के तनाव से परेशान आ गया हूं। मेरी मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है।

बताया जा रहा है कि जिस वक्त भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारी, उस दौरान उनकी मां और पत्नी घर में ही थीं। एक सहयोगी की मदद से कमरे का दरवाजा तोड़ा गया और उन्हें बाहर निकाला गया।

यहां से उन्हें आनन फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन डॉक्टरों ने मृतक घोषित कर दिया।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस की फॉरेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंची है। भय्यू जी महाराज को गोली लगने की जानकारी मिलने के बाद बड़ी संख्या में उनके अनुयायी अस्पताल पहुंच गए।

इंदौर के आईजी मकरंद देउस्कर ने बताया कि सुसाइड नोट और पिस्टल बरामद की गई है। घर के सदस्यों से भी पूछताछ की जाएगी। उन्होंने बताया कि महाराज ने लाइसेंसी हथियार से ही खुद को गोली मारी।

आपको बता दें कि भय्यूजी महाराज ने पिछले साल ही दूसरी शादी की थी। उनकी पहली पत्नी की मौत हो गई थी।

एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भय्यू जी महाराज की मौत पर शोक जताया है। मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि राष्ट्रसंत भय्यूजी महाराज के अवसान से उन अनगिनत लोगों को व्यक्तिगत क्षति हुई है जिन्हें अपने आध्यात्मिक ज्ञान से उन्होंने जीवन जीने की राह दिखाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *