lok sabha elections 2019
News_Special फोटो गैलरी

निर्दलीय प्रत्याशी बोधसिंग भगत को इस पार्टी ने दिया समर्थन, बीजेपी-कांग्रेस को झटका

बालाघाट। भाजपा और कांग्रेस पार्टी में मची भागदौड़ के चलते निर्दलीय प्रत्याशी बोधसिंह भगत का पलड़ा धीरे-धीरे भारी होते दिखाई दे रहा है। लोकसभा प्रत्याशी ढालसिंह बिसेन को बाहरी व्यक्ति का प्रचार प्रसार कर भाजपा की स्थिति को कमजोर किया जा रहा है, जिससे राजनीतिक समीकरण पर उलटफेर की सुगबुगाहट बलवती होती जा रही है। वहीं बोधसिंह भगत की टिकट काटे जाने को लेकर एक बड़ा भाजपा खेमा अंधरूनी रूप से खासा नाराज है, जिसका जिम्मेदार पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन को माना जा रहा है। कुछ भाजपाई कार्यकर्ता कह रहे हैं कि मौसम बिसेन को टिकट नहीं मिलने पर यह सारा प्रपंच मंत्री बिसेन के द्वारा रचा गया है जिसका खामियाजा भाजपा को कहीं न कहीं उठाना पड़ेगा।
वहीं बरघाट और सिवनी में भाजपा की स्थिति मजबूत होने का दावा प्राप्त सूचना के आधार पर बताया जा रहा है तो वहीं बैहर में कांग्रेस समर्थकों का अच्छा बोल-बाला बताया गया है। बालाघाट विधानसभा क्षेत्र में लालबर्रा ब्लाक में 36 ग्राम पंचायतों में आदिवासी वोटरों को कांग्रेस पर भरोसा है तो बाकी ग्राम पंचायतों में बोधसिंह भगत अपनी पकड़ बनाए हुए हैं। बालाघाट ब्लॉक में चतुष्कोणीय संघर्ष को लेकर प्रत्याशियों में खींचतान मची हुई है। जिसके कारण लोकसभा चुनाव नित नए समीकरण बन रहे है। प्रत्याशी जनता और अन्य स्थानीय एवं क्षेत्रीय दलों से समर्थन पाने प्रयासरत है। जिसमें बोधसिंग भगत सफल होते दिखाई दे रहे है।
शुक्रवार को निर्दलीय प्रत्याशी बोधसिंग भगत को अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी ने उन्हें चुनाव में अपना समर्थन दिया है। जिससे बोधसिंग भगत की चुनावी ताकत में इजाफा के रूप में देखा जा रहा है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष द्रोपकिशोर मेंरावी ने कहा कि प्रत्याशी बोधसिंग भगत की कार्यप्रणाली से प्रभावित होकर समर्थन दिया है और पार्टी इनके पक्ष में लोकसभा क्षेत्र में प्रचार करेगी।
रिपोर्ट: रितेश सोनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *