राजनीति

स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट जारी, इंदौर सबसे साफ, लेकिन यहां देखिए देश के 10 सबसे गंदे शहर

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने स्वच्छ सर्वेक्षण रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट में एक बार फिर से मध्य प्रदेश के दो शहरों ने टॉप पर कब्जा जमाया है। इंदौर और भोपाल देश के सबसे स्वच्छ शहर हैं। चंडीगढ़, पुणे और विजयवाड़ा ने भी टॉप दस शहरों में जगह बनाई है।

इस बार भी दस सबसे गंदे शहरों की लिस्ट जारी हुई है। वहीं स्वच्छता के मामले में सबसे गंदा प्रदर्शन करने वाला राज्य पश्चिम बंगाल है। लिस्ट में बंगाल के 7 शहर शामिल हैं। जबकि अन्य तीन शहर उत्तर प्रदेश, ओडिशा और बिहार के हैं।

आइए आपको बताते हैं, देश के 10 सबसे गंदे शहरों कौन-कौन से हैं।
1. भद्रेश्वर (पश्चिम बंगाल)
2. बांकुरा (पश्चिम बंगाल)
3. सिमरी बख्तियारपुर (बिहार)
4. चम्पांडी (पश्चिम बंगाल)
5. बांस बैरिया (पश्चिम बंगाल)
6. चांदबली (ओडिशा)
7. खरदा (पश्चिम बंगाल)
8. विद्यावती (पश्चिम बंगाल)
9. पनिहाती (पश्चिम बंगाल)
10. खोडा मकनपुर (उत्तर प्रदेश)

आपको बता दें कि पहली बार ही पश्चिम बंगाल स्वच्छ भारत सर्वेक्षण में शामिल हुआ था। इस साल के सर्वेक्षण में देश भर के 4,203 नगरपालिका क्षेत्र भी शामिल किए गए थे।

टॉप 10 की लिस्ट में शुमार चंडीगढ़ इस बार तीसरे नंबर पर है, जबकि बीते साल यह 11वें नंबर पर था। नई दिल्ली नगरपालिका परिषद की स्थिति में भी इस बार सुधार हुआ है, पहले यह टॉप 10 की लिस्ट में 7वें स्थान पर थी, लेकिन इस बार 3 पायदान ऊपर चढ़ते हुए चौथे नंबर पर आ गई है।

वहीं नवी मुंबई को इस बार एक पायदान का नुकसान हुआ है, 2017 में यह 8वां नंबर पर थी, इस बार 9वें स्थान पर खिसक गया है। मैसूर भी गिरा है। बीते साल ये 5वें स्थान पर था, जबकि इस बार यह 8वें नंबर पर खिसक गया है।

आंध्र प्रदेश के शहर तिरुपति की स्थिति भी इस बार सुधरी है। पहले यह 9वें नंबर पर था और अब छठे नंबर पर पहुंच गया है। पीएम मोदी का निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी थोड़ा से ऊपर आने में कामयाब रहा है, इस साल 29वें नंबर पर पहुंच गया है, जबकि बीते साल 32वें नंबर पर था।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि पिछले 4 साल में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 8.3 करोड़ शौचालयों का निर्माण किया गया है। अब स्वच्छ भारत का सपना ज्यादा दूर नहीं है, बहुत जल्द यह सपना पूरा होने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *