छत्तीसगढ़ स्पेशल न्यूज़

होटल में ले जाकर पत्नी को दोस्त को सौंपा, हैवानियत के बाद 50 रुपये के स्टॉम्प पर तलाक देकर कराई उससे शादी

कवर्धा। छत्तीसगढ़ से पति-पत्नी के रिश्ते को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। एक पति ने अपनी पत्नी को दोस्त को परोस दिया। इतना ही नहीं आरोपी पति ने स्पाम्प पर अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। इसके बाद उसने अपनी पत्नी की दोस्त से शादी भी करा दी। पीड़िता ने घटना की जानकारी परिजनों को दी। यह सब सुनते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्होंने तुरंत मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

घटना कवर्धा के थाना सिंघनपुरी की है। ग्राम पीपरटोला के रहने वाले आरोपी खिलेन्द्र पिता बिजेन्द्र साहू की शादी हुई थी। बड़ी बात ये है जिस लड़की से 19 साल के खिलेंद्र की शादी हुई वो नाबालिग है। 27 जून की यह घटना है। आधार कार्ड बनवाने का झांसा देकर आरोपी खिलेन्द्र पत्नी को लेकर कवर्धा गया था। आरोपी कमलेश भी उसके साथ में था। आरोप है कि तहसील ऑफिस में दो स्टाम्प पर पीड़िता से जबरन दस्तखत कराए। एक स्टाम्प तलाक संबंधी और दूसरा आरोपी कमलेश के साथ शादी का था। नोटरी कराने के बाद आरोपी पति और उसका दोस्त एक होटल में रुके। कुछ देर बाद आरोपी खिलेन्द्र अपनी पत्नी को अपने दोस्त को सौंपकर चला गया। इसके बाद आरोपी कमलेश ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पीड़िता का आरोप है कि शादी के कुछ दिन बाद तक सब सही चला। 27 जून को एक दिन स्मार्ट कार्ड बनवाने की बात कहकर कवर्धा ले गए। आरोप है कि दोनों बाइक से निकले लेकिन आरोपी ने उसे बस में अपने दोस्त कमलेश पिता गजेलाल साहू (29) निवासी ग्राम नचनिया साल्हेवारा (राजनांदगांव) के साथ बैठा दिया। पीड़िता आरोपी के दोस्त के साथ कवर्धा के काली गार्डन पहुंच गई। तीन घंटे इंतजार देखने बाद आरोपी खिलेंद्र वहां पहुंचा। इसके आरोपी ने गंभीर आरोप लगाते हुए धमकी दी। डरा-धमकाकर उसने दस्तखत करा लिए। इसके बाद दोनों उसे होटल में ले गए। काफी देर इंतजार के बाद नहीं आए। इस दौरान आरोपी के दोस्त कमलेश ने उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोप है कि पति ने उसे जानबूझकर कमरे में अकेला छोड़ा।

इसके बाद पीड़िता अपने घर चली गई। पीड़िता ने बताया कि इसके बाद पति का दोस्त घर आया और मुझे साथ ले जाने का दबाव बनाने लगे तब मैंने परिवार को जानकारी दी। परिजन इसके बाद थाने पहुंचे।

वहीं आरोपी पति का कहना है कि वो दोनों बाइक से आधार कार्ड बनवाने कवर्धा जा रहे थे। लेकिन बीच में बारिश का अंदेशा देख पत्नी को बस से कमलेश के साथ भेज दिया। कवर्धा के काली गार्डन में पहुंचा तो पत्नी की गोद में कमलेश सिर रख लेटा था। इस पर दोनों की रजामंदी हो गई और तलाक देकर दोनों की शादी करा दी। आरोपी कमलेश ने पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने कहा उससे उसके दोस्त खिलेंद्र ने ऐसा करने को कहा। क्योंकि खिलेंद्र पत्नी से छुटकारा पाना चाहता था। जांच में सामने आया है कि आरोपी पति के दूसरी महिला से संबंध थे। इसलिए आरोपी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर यह सारा खेल रचा।

कबीरधाम एसपी डॉ. लाल उमेद सिंह का कहना है कि जांच की जा रही है। शुरुआती जांच में सामने आया है कि दोनों ने साजिश रचकर पीड़िता को फंसाया और घटना को अंजाम दिया।

रिपोर्ट: अमित सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published.