अन्य खबर

बड़ी खबर: इन उत्पादों पर कम होगा GST, टीवी-फ्रीज समेत ये सामान होगा सस्ता

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पर एक पोस्ट किया है। इस पोस्ट से ऐसे संकेत मिले हैं, कि जीएसटी के 28 फीसदी स्लैब से कई उत्पादों को हटाकर उन्हें 18 फीसदी के स्लैब में किया जाएगा।

साथ ही यह भी संकेत किया कि इन उत्पादों पर जीएसटी काउंसिल अपनी अगली बैठक में फैसला लिया जा सकता है।

जेटली ने पोस्ट में लिखा है कि 28 फीसदी स्लैब में केवल सिन गुड्स वाले उत्पाद रहेंगे। इनमें तंबाकू व इससे जुड़े उत्पाद और शराब, लक्जरी उत्पाद जैसे कि एसयूवी, एक्सयूवी और अन्य बड़े वाहन इस स्लैब में रहेंगे।

इसके अलावा सीमेंट, एसी और बड़े स्क्रीन साइज (27 इंच से ज्यादा) वाले टीवी सेट इस लिस्ट से बाहर होंगे। प्राकृतिक गैस, सीएनजी, पीएनजी आदि को इसके दायरे में लाया जाएगा।

पेट्रोल में इस्तेमाल होने वाले इथेनॉल पर जीएसटी 18 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी की गई है। आपको बता दें कि पीयूष गोयल ने अभी वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभाल रखा है। क्योंकि जेटली की किडनी का ऑपरेशन हुआ है।

पिछली बैठक के बाद वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि इस फैसले से 100 से ज्यादा सामान सस्ते होंगे। नई कर दरें आज से लागू होंगी। सेनेटरी नैपकिन के अलावा स्टोन, मार्बल, राखी, साल के पत्ते पर कोई जीएसटी टैक्स नहीं लगेगा।

पिछली बैठक में ही कंपोजिशन डीलरों की सीमा को एक करोड़ रुपये से बढ़ाकर डेढ़ करोड़ रुपये किया गया था। बांस की फ्लोरिंग पर जीएसटी दर 18 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी की गई थी।

ये हैं 18 फीसदी टैक्स स्लैब में आने वाले सामान
एसी, वाशिंग मशीन, 68 सेमी टीवी, फ्रिज, वीडियो गेम्स, लिथियम आयन बैटरी, आइसक्रीम कूलर, परफ्यूम, वैक्यूम क्लीनर, पेंट, वार्निश, वॉल पट्टी, चमड़े का सामान, वाटर कूलर, मिल्क कूलर, जूसर मिक्सर ग्राइंडर, इलेक्ट्रिक आयरन, वाटर हीटर, हेयर ड्रायर

ये सामान हुए टैक्स फ्री
सैनेटरी नैपकिन, स्टोन, मार्बल, राखी, साल के पत्ते, लकड़ी से बनी मूर्तियां, हैंडीक्राफ्ट आइटम

Leave a Reply

Your email address will not be published.